Two Line Shayari and WhatsApp Status in Hindi - Love Shayari | Hindi Shayari Collection

Two Line Shayari and WhatsApp Status in Hindi

Hi Friends !! Now days every people are looking for some best WhatsApp Status for smartphones.  Some of people like their whatsapp status in English and some are in Hindi. Here I have collected some best two line whatsapp status in Hindi for you. Simply take these two line shayari in hindi and put it to your whatsapp profile.

2 Lines Shayari for WhatsApp

whatsapp-status

two line whatsapp status in Hindi

चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह…
मगर खामोश रहता हूँ, अपनी तकदीर की तरह…!!
** ** **
मेरी ख़ुशी के लम्हे इस कदर मुख्तसिर हैं ,
गुज़र जाते हैं मेरे मुस्कराने से पहले !!!
** ** **
मेरी जबान के मौसम बदलते रहते हैं,
मैं ‘आदमी’ हूँ मेरा ऐतबार मत करना
** ** **
वो चाहते हैं हमसे जी भर के मोहब्बत करना,
हम ये सोचते हैं वो मोहब्बत ही क्या जिससे जी भर जाए.
** ** **

Sad two line whatsapp status in Hindi

इस कदर अजनबीपन मुझे अपने शहर में लगा,
जो भी अकेला मिला, अपना सा लगा…
** ** **
गौर से देखा तो पाया मैंने, 
वो घडी के बीच में सुईया नही इंसान झूलता है.
** ** **
ये ना समझना कि खुशियों के ही तलबगार हैं हम,
तुम अगर अश्क भी बेचो तो, उसके भी खरीददार हैं हम…!
** ** **
हसरतों को यूँ ना पाल कर रखिये,
जो मिला है उसे, संभाल कर रखिये…!
** ** **

Breakup WhatsApp Status in Hindi

चंद फासलों के लिये किसी से दुश्मनी मत कीजिए,
रास्ते और भी हैं, रास्ता ही क्यों न बदल लीजिये…!
** ** **
अनजान अपने आप से वह शख्स रह गया,
जिसने उम्र गुजार दी, औरों की फिक्र में.
** ** **

2 Lines life shayari in hindi

जो सफर अखित्यार करते है
वही मंजिलो को पार करते है
बस एक वर चलने का हौसला तो रखिये
ऐसे मुसाफिरों का रास्ते भी इंतजार करते है ।
 
** ** **
 
पत्थर छुपे हैं इनमें या मोती, क्या खबर…
ये दिल तो समुंदरों से भी गहरे होते हैं…
** ** **

Simple 2 lines whatsapp status

सभी ने किरदार पर फैसला सुना दिया…
मैं क्या हूँ… और मुझे क्या बना दिया…
** ** **
 

Short poetry in Hindi

होटल में थाली धोकर मालिक की गाली सुनता हूँ। 
जूतों की में पालिश करता चौराहों पे बोझा ढोता हूँ। 
पानी भरकर लाता हूँ कभी भूखा ही सो जाता हूँ।
 घर आकर माँ के आँचल में सर छुपाकर रोता हूँ। 
उनको क्या लेना-देना ,उनकी हर शाम सिंदूरी है।
 राष्ट्र कर्णधारो के मुँह में राम बगल में छुरी है …
 
** ** **
नन्हे हाथो को खिलौनो और किताबो की जगह 
किसी ढाबे के टेबल पे जूठे कप समेटते पाओगे 
माँ का दिया नाम तो मैं भीं कब का भूल गया 
बस छोटू छोटू नाम से टेबल से आवाज़े पाओगे 
उम्र की शरारत विदा हो गयी घर की जिम्मेदारी में 
दिल गवाही दे पायेगा की चिल्ड्रेन्स डे मना पाओगे .
फिर से मुझे मिट्टी में खेलने दे ऐ जिन्दगी…
ये साफ़ सुथरी ज़िन्दगी, उस मिट्टी से ज्यादा गन्दी है 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enter the captcha *

Love Shayari | © 2015-2016